समस्तीपुर: हसनपुर में नदी से नारियल निकालने गये दो बालकों की डूबने से मौत

हसनपुर थाना क्षेत्र के हसनपुर सहकारिता भवन के समीप मृत बागमती नदी से रविवार सुबह छह बजे नदी से विर्सजित नारियल निकालने गये दो बालकों की डूबने से मौत हो गयी।

दोनों बालकों के डूबने की खबर आग की तरह क्षेत्र में फैल गई। जिसके बाद गांव में अफरातफरी मच गयी। देखते ही देखते सैकड़ों की संख्या में लोग नदी के तट पर जुट कर बच्चों की खोज शुरू कर दी।

बताया जाता है कि रतिया गांव के कारी साह का पुत्र अभिषेक (13) काली मंदिर के बगल से नदी में घुस कर नारियल लाने गया।

अभिषेक को डूबते देख कर उसे वीर कुमार (14) भी नदी में घुस गया। देखते ही देखते दोनों जलकुंभी के नीचे चले गये। स्थानीय गोताखोरों ने लगभग चार घंटे की मशक्कत के बाद शवों को पानी से बाहर निकाला गया।

बताया जाता है कि घटना की सूचना पर प्रशासन की टीम भी पहुंच गई। नदी में जलकुंभी होने के कारण दोनों की खोज करने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा।

जेसीबी से जलकुंभी हटा कर शव निकाला गया। इस संबंध में सीओ आनंद कुमार झा ने बताया कि जेसीबी से जलकुंभी को लोगों के सहयोग से हटाया गया।

दोनों का शव बाहर निकाला जा चुका है। थानाध्यक्ष चन्द्रकांत गौड़ी ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए समस्तीपुर भेजा गया।