समस्तीपुर में लोकतंत्र के महापर्व का दिखा उत्सवी रूप, खूब बजे बजे ढोल-मंजीरे

गाजे-बाजे के साथ जमी थी टोली

मतदान को लेकर उत्साहित ये वाद्य और गायन कलाकार ढोलक, मंजीरे, हारमोनियम लिए संगीत की धुन पर मस्त थे और वोटों से मतदान में भाग लेने के लिए तैयार किए गए गीत के बोल से हर आने-जाने का ध्यान आकर्षित कर रहे थे। ये मतदाताओं को वोट डालने के लिए लोगों को जागरूक कर रहे थे।

मंडली में तकरीबन एक सौ वर्षीय नित्यानंद ठाकुर भी शामिल

खास बात है कि इस मंडली में कोरबद्धा गांव के तकरीबन एक सौ वर्षीय नित्यानंद ठाकुर भी शामिल थे। उन्होंने खुद व्हील चेयर पर बैठकर संत कबीर महाविद्यालय मतदान केंद्र पहुंचकर मतदान किया। साथ ही लोगों को भी मतदान के लिए जागरूक किया। उन्होंने कहा कि सभी लोगों को अपने मताघिकार का प्रयोग करना चाहिए, ताकि सक्षम और सशक्त लोकतंत्र की स्थापना हो सके।

पौत्र के साथ पहुंचे थे वोट डालने

वहीं आदर्श मध्य विद्यालय बरहेता मतदान केंद्र संख्या 53 पर 86 वर्षीय छिलेश्वर प्रसाद देव अपने पौत्र के साथ उत्साहित होकर मत देने के लिए पहुंचे।

लाठी के सहारे मत गिराने पहुंचे

पंचायत भवन फूलहारा मतदान केंद्र संख्या 187 पर दिव्यांग उपेंद्र झा लाठी के सहारे मत गिराने के लिए पहुंचे थे। वही दूसरे दिव्यांग विपिन कापर ने भी बड़े उत्साह से मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं सिमरिया गांव के एक युवा सामंत कुमार ने बताया कि विकास के नाम पर अधिकतर युवाओं ने मतदान किया है।  

Posted by Raushan Kumar