चीन की दादागिरी, 3 दिन से इस देश के जल क्षेत्र में डटे हैं चीनी पोत,

जापानी तटरक्षक अधिकारियों ने बताया कि चीन के दो जहाज जापान के दावे वाले जलक्षेत्र में रविवार की सुबह घुस गए और मछली पकड़ने वाली जापानी नौका के पास जाने का प्रयास किया जिस पर चालक दल के तीन लोग सवार थे. उन्होंने बताया कि वे अब भी वहां बने हुए हैं.

चीनी तटरक्षक बलों के दो जहाजों के विवादित पूर्व चीन सागर द्वीपसमूह से लगे जापानी जल क्षेत्र में प्रवेश करने और मंगलवार तक लगातार तीसरे दिन वहां से हटने से इनकार करने के बाद जापान ने चीन के समक्ष विरोध दर्ज कराया है.

जापानी तटरक्षक अधिकारियों ने बताया कि चीन के दो जहाज जापान के दावे वाले जलक्षेत्र में रविवार की सुबह घुस गए और मछली पकड़ने वाली जापानी नौका के पास जाने का प्रयास किया जिस पर चालक दल के तीन लोग सवार थे. उन्होंने बताया कि वे अब भी वहां बने हुए हैं और वहां से निकलने की जापानी अधिकारियों के निर्देश एवं चेतावनी को अनसुना कर रहे हैं.

चीनी तट रक्षक जहाज नियमित तौर पर जापान के नियंत्रण वाले दक्षिणी सेंकाकू द्वीप के आस पास जल क्षेत्र का उल्लंघन करते रहते हैं. इस क्षेत्र पर चीन भी दावा करता है. मुख्य कैबिनेट सचिव कत्सुनोबू कातो ने मंगलवार को कहा कि यह दुखद है कि चीनी तटरक्षक बलों का दो जहाज जापानी जलक्षेत्र में मौजूद हैं. 

उन्होंने कहा कि जापान चीन से इसका सख्त विरोध करता है और मांग करता है कि चीनी जहाज तत्काल जापानी जल क्षेत्र से निकल जाएं. उन्होंने कहा कि जापान अपने जल, थल और वायु क्षेत्र का बेहद मजबूती से बचाव करेगा. जापानी तट रक्षक अधिकारियों ने कहा कि चालक दल के तीन सदस्यों के साथ मछली पकड़ने वाली नौका पूरी तरह सुरक्षित है.