भरतीय रेलवे का बड़ा ऐलानः 20 अक्टूबर से 30 नवंबर तक 392 त्योहार स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी,

कोरोना महामारी के कारण रेलवे ने अपनी नियमित सेवाओं के स्थगित कर दिया है. जरूरत के हिसाब से देशभर में ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है,

भारतीय रेलवे ने मंगलवार को ऐलान किया कि आगामी त्योहारी सीजन को देखते हुए 20 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच 392 त्योहार स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी. इन ट्रेनों पर विशेष ट्रेनों वाला किराया लागू होगा, यानी इनका किराया मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों की तुलना में 10-30 प्रतिशत तक अधिक होगा. यह किराया यात्रा की श्रेणी पर भी निर्भर करेगा. एक बयान में बताया गया कि रेलवे को त्योहारी मौसम के मद्देनजर यात्रियों की भीड़ बढ़ने का अंदेशा है, जिसे देखते हुए यह फैसला किया गया है.

बयान में बताया गया है कि दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली और छठ पूजा के दौरान छुट्टियों की वजह से मुसाफिरों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कोलकाता, पटना, वाराणसी, लखनऊ समेत अन्य जगहों के लिए विशेष ट्रेनें चलाई जाएंगी. अब तक रेलवे ने 666 मेल/एक्सप्रेस रेल गाड़ियों को सेवा में लगाया है, जो पूरे देश में अब नियमित तौर पर चल रही हैं. इसके अलावा मुंबई में कुछ उपनगरीय सेवा के साथ-साथ कोलकाता मेट्रो की कुछ सेवा भी बहाल की गई है.

30 नवंबर तक ही ये स्पेशल ट्रेनें चलेंगी

अधिकारियों ने बताया कि ये त्योहार विशेष ट्रेनें 30 नवंबर तक ही चलेंगी. मंगलवार को जारी आदेश में रेलवे बोर्ड ने कहा कि ये त्योहार विशेष ट्रेनें 55 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चलेंगी. रेलवे ने कोरोना वायरस महामारी के कारण अपनी नियमित सेवा को स्थगित कर दिया है और मांग तथा जरूरत के हिसाब से रेल गाड़ियों का संचालन कर रहा है.