लालू प्रसाद यादव को एक और मामले में मिली ज़मानत, लेकिन अब भी रहना होगा जेल में

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को चारा घोटाले (Fodder Scam) से जुड़े एक और मामले में शुक्रवार को जमानत मिल गई. हालांकि, एक अन्य मामले में बेल नहीं मिलने की वजह से फिलहाल उन्हें जेल में ही रहना होगा और उनकी रिहाई नहीं हो सकेगी. जानकारी के मुताबिक, अंतिम मामले में ज़मानत एक महीने बाद मिलेगी. सभी मामलों में ज़मानत इस आधार पर मिल रही है कि लालू यादव ने सजा का पचास प्रतिशत जेल में गुज़ारा है.

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections 2020) की तैयारियों के बीच लालू यादव का जेल में रहना आरजेडी के लिए झटका माना जा रहा है. राज्य में पहले चरण का चुनाव 28 अक्टूबर 2020 को होगा. ऐसे में पार्टी को लालू की कमी खल सकती है.