जम्मू कश्मीर में आतंकियों की नई चाल, राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक हफ्ते में तीसरा हमला

जम्मू-कश्मीर. पंपोर में सीआरपीएफ की टीम पर सोमवार को बाइक सवार आतंकियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की जिसमें दो जवान शहीद हो गए और सात घायल हुए हैं. खुलासा करते हुए जम्मू कश्मीर पुलिस ने बताया कि इस हमले को ‘लश्कर ए तैयबा’ आतंकी संगठन ने अंजाम दिया. पुलिस ने कहा कि जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकियों के निशाने पर अब प्रदेश के हाईवे हैं.

जम्मू कश्मीर पुलिस ने सोमवार को पुलवामा के पांपोर में हुए आतंकी हमले के बाद कहा कि आम लोगों और सुरक्षा बलों को अधिक नुकसान पहुंचाने के इरादे से लश्कर के आतंकी इसी राजमार्ग पर हमले करने लगे हैं. एक हफ्ते के भीतर कश्मीर घाटी के दक्षिण में स्थित इस राष्ट्रीय राजमार्ग पर होनेवाला यह तीसरा हमला है.

जम्मू कश्मीर पुलिस ने पंपोर हमले के लिए लश्कर ए तैयबा आतंकी संगठन को जिम्मेदार बताया. पुलिस ने कहा कि आतंकी, सुरक्षा बलों और आम नागरिकों को नुकसान पहुंचाने के इरादे से ये हमले कर रहे हैं. जम्मू कश्मीर पुलिस के आईजी विजय कुमार के अनुसार दोपहर लगभग एक बजे बाइक पर सवार दो आतंकियों ने इस हमले को अंजाम दिया जिसमें दो जवान शहीद हो गए.

आईजी विजय कुमार के अनुसार हमलावर आतंकियों में से एक पाकिस्तानी नागरिक है. इसका नाम सैफुल्लाह है जो पिछले एक साल से इस इलाके में सक्रिय है. पुलवामा में ही इस आतंकी संगठन का यह तीसरा हमला है. इस हमले में एके-47 का इस्तेमाल किया गया. पुलिस ने दावा किया कि बहुत जल्द इन आतंकियों को मार गिराया जाएगा. उन्होंने कहा कि आतंकियों के निशाने पर राष्ट्रीय राजमार्ग है.

वहीं आज पुलवामा में हुए हमले में CRPF की 110 बटालियन के सात जवान जख्मी हुए थे जिनमें से दो- कांस्टेबल ड्राईवर दिरेंदर और कांस्टेबल शैलेंद्र कुमार शहीद हुए जबकि पांच अन्य का उपचार श्रीनगर में सेना के अस्पताल में चल रहा है.