अपनी टीम के लिए बोझ साबित हो रहा है आईपीएल इतिहास का सबसे महंगा गेंदबाज

शारजाह: इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के शनिवार को शारजाह में खेले गए मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 18 रन से हार का सामना करना पड़ा। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली के बल्लेबाजों ने कोलकाता के गेंदबाजों की जमकर धुनाई करते हुए 20 ओवर में 4 विकेट पर 228 रन का स्कोर खड़ा किया। दिल्ली के लिए पृथ्वी शॉ ने 41 गेंद में 66 और कप्तान श्रेयस अय्यर ने 38 गेंद पर नाबाद 88 रन की पारी खेली। इसके जवाब में केकेआर 8 विकेट पर 210 रन बना सकी।

दिल्ली के बल्लेबाजों ने कोलकाता के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की और पारी में 14 छक्के जड़ दिए। आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे गेंदबाज ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस की जमकर धुनाई हुई और उन्होंने 4 ओर में 49 रन लुटा दिए और कोई सफलता हासिल नहीं कर सके।

पृथ्वी शॉ और शिखर धवन ने उन्हें निशाना बनाया और अपनी टीम को 4.4 ओवर में 50 रन के पार पहुंचा दिया।

15.5 करोड़ में हुए थे नीलाम

पिछले साल हुई नीलामी में कोलकाता नाइट राइडर्स ने अपनी गेंदबाजी को मजबूत करने के लिए दुनिया के नंबर एक टेस्ट गेंदबाज पैट कमिंस पर दांव खेला और उन्हें टीम में शामिल करने के लिए 15.50 करोड़ खर्च कर दिए। लेकिन शुरुआती चार मैच में उनके प्रदर्शन को देखकर लगता है कि केकेआर ने उन्हें खरीदकर भूल कर दी। अब तक खेले 4 मैच में गेंदबाजी करते हुए कमिंस ने 65 के औसत और 9.28 की इकोनॉमी से केवल 2 विकेट हासिल कर सके हैं।

जितनी कीमत पर कमिंस को केकेआर ने खरीदा है उसे देखते हुए वो उन्हें एकादश से बाहर करने का जोखिम भी नहीं उठा सकती है। लेकिन कमिंस का खराब फॉर्म टीम के लिए लगातार परेशानी का सबब बन रही है। अगर जल्दी ही स्थिति नहीं सुधरी तो केकआर के लिए टूर्नामेंट में परेशानी बढ़ सकती हैं।