बिहार में अब परिवहन अधिकारी और कर्मचारी भी पकड़ेंगे शराब, पुलिस की मदद करने को मिला विभाग से निर्देश

शराबबंदी के बाद भी बिहार में शराब की तस्करी हो रही है, जिसे रोकने के लिए सरकार ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया है.

इसी कड़ी में परिवहन विभाग ने सभी परिवहन अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह शराब की तस्करी रोकने में भी अपना सहयोग दे.

जांच अभियान या अन्य दिनों में जब छोटी-बड़ी किसी गाड़ी को जांच के लिए पकड़ा जाता है, तो पेपर के साथ शराब की जांच करें, ताकि शराब तस्करी पर राज्य में पूरी तरह से अंकुश लग सके.

नये साल को देखते हुए बॉर्डर पर बढ़ी सख्ती

बॉर्डर पर शराब की तस्करी गाड़ियों से नहीं हो. इसको लेकर विभाग ने गाड़ियों की जांच भी सख्त करने को कहा है.

बॉर्डर इलाके से जितनी सड़क बिहार में आती है. उन सभी इलाकों में अधिकारी पेट्रोलिंग बढ़ायी जाये. इसको लेकर सभी डीटीओ व एमवीआइ को टीम बनाने का निर्देश दिया गया है, ताकि जांच में कोताही नहीं हो.

विभागीय अधिकारी व कर्मचारी जब गाड़ियों की जांच करेंगे, तो वह गाड़ी की डिक्की को भी खोल कर देखेंगे. वह पेपर के साथ पूरी गाड़ी को जांच करने के बाद ही गाड़ी को आगे वहां से जाने देंगे.