शिक्षा मंत्री का ऐलान, 23 फरवरी से जेईई मेन परीक्षा, साल में 4 बार एग्जाम

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जेईई मेन 2021 परीक्षा का ऐलान कर दिया है। शिक्षा मंत्री ने बुधवार को घोषणा की कि जेईई मेन परीक्षा 2021 का पहला सत्र 23 फरवरी से 26 फरवरी 2021 के बीच होगा।

इस बार जेईई मेन 2021 का आयोजन साल में चार बार किया जाएगा। फरवरी के बाद बाद दूसरा सत्र मार्च, तीसरा अप्रैल और चौथा मई में होगा।

ऐसा फैसला इसलिए किया गया है ताकि अलग अलग समय पर होने वालीं विभिन्न राज्यों की बोर्ड परीक्षाएं जेईई मेन परीक्षा के आयोजन में बाधा पैदा न करें। इससे पहले यह इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा साल में दो बार आयोजित होती रही है।

निशंक ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा, ‘एनटीए द्वारा चारों सत्रों की परीक्षाएं छात्र अपनी सुविधाओं के अनुसार दे सकेंगे।

पहला सत्र 23 फरवरी से 26 फरवरी के बीच होगा। इसके बाद मार्च, अप्रैल और मई में भी एग्जाम होगा। आपके लिए बहुत बड़ा मैदान खाली है। आपके लिए अनेक अवसर हैं।

दूसरे प्रयास में आपका आत्मविश्वास बढ़ जाएगा, गलतियां कम होंगी। आपका साल बर्बाद होने से बच जाएगा। एक परीक्षा से चूकने पर दूसरी बार परीक्षा दे सकते हैं।