समस्तीपुर में जल्द शुरू होगा पोषण पुनर्वास केंद्र, मिलेगा यह फायदा

कुपोषित बच्चों को बेहतर देखभाल प्रदान करने के लिए बच्चों को 14 दिन से एक महीने तक की बेहतर देखभाल एवं गुणवत्तापूर्ण चिकित्सकीय सेवा प्रदान कर स्वस्थ समाज निर्माण में पोषण पुनर्वास केंद्र का अहम योगदान होता है।

अति-कुपोषित बच्चों के लिए यह संजीवीनी साबित माना जाता है। वर्तमान में जिला में यह केंद्र बंद है। पहले एनजीओ के द्वारा संचालित की जा रही थी। अब स्वास्थ्य प्रशासन खुद इसका संचालन करेगा।

इसको लेकर विभागीय स्तर पर प्रक्रिया चल रही है। सिविल सर्जन डॉ. सत्येंद्र कुमार गुप्ता ने बताया दिसंबर के अंत तक पोषण पुनर्वास केंद्र का पुनः संचालन किया जाएगा। संचालन के लिए विभाग से दिशा निर्देश मांगा गया है।