रेलवे ने नाइट ड्यूटी एलाउंस के नियम को बदला, अब सिर्फ इन कर्मचारियों को मिलेगा लाभ

कोरोना काल में हर जगह नौकरी में छटनी और तनख्वाह में कटौती की जा रही है. इसकी गाज हर सेक्टर में काम कर रहे लोगों पर गिर रही है. इस संकट की घड़ी में भारतीय रेलवे भी इस से अछुता नहीं रहा. 

रेलवे बोर्ड ने अब रेल कर्मचारियों मिलने वाले रात्रिकालीन ड्यूटी भत्ते में कटौती करने जा रहा है. इस नियम के तहत जिन रेल कर्मचारियों का मूल वेतन 43,600 रुपए है या इससे कम, अब उसी को रात्रिकालीन ड्यूटी भत्ता मिलेगा.

कोरोना काल से पहले तक रेल कर्मचारियों को रात्रिकालीन ड्यूटी भत्ता लोको पायलट, टिकट चेकिंग कर्मी, गार्ड, स्टेशन मास्टर को भी मिलता था. लेकिन अब इस नई व्यवस्था के लागू होने के बाद से ये लोग नाइट ड्यूटी भते के बाहर हो जाएंगे.

इस आदेश को संज्ञान में लेते हुए नॉर्दर्न रेलवे मेंस यूनियन के मंडल मंत्री आरके पांडे ने बताया कि रेल कर्मचारी विरोधी इस फैसले का विरोध किया जाएगा.