पुलिस के एक फोन का कमाल, साहूकार के पास गिरवी पड़ी जमीन किसान को मिली वापस

इंदापूर तालुका के तावशी गांव के एक किसान ने अपने निजी उपयोग के लिए बारामती गुणवडी गांव के साहूकार से पांच लाख रुपये दस फीसदी ब्याज से लिए थे. उसके बदले किसान की दो एकड़ जमीन साहूकार ने अपने नाम कर ली थी.

इस दो एकड़ जमीन की कीमत लगभग साठ लाख रुपये है. किसान हर महीने साहूकारों को दस फीसदी ब्याज दे रहा था.

पिछले छह साल से पांच लाख रुपये के बदले उन्तिस लाख रुपये किसान ने साहूकार को दिए थे. फिर भी साहूकार पैसे की मांग कर रहा था, और जमीन भी वापस करने का नाम नहीं ले रहा था.

तो परेशान होकर कर्जदार किसान ने पुलिस में शिकायत करने की सोची. बारामती शहर पुलिस द्वारा साहूकार के खिलाफ शुरू किए गए ऑपरेशन के बारे में वो जानते थे, इसलिए वह सीधे पुलिस स्टेशन पहुंचे और पुलिस निरीक्षक नामदेव शिंदे से मिले.

जब पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझा, तो पुलिस इंस्पेक्टर नामदेव शिंदे ने साहूकार को फोन मिलाकर कहा कि हम आपसे पूछताछ करना चाहते हैं, आप पुलिस स्टेशन में आएं.

बस इसी फोन ने किसान का नसीब बदल गया. साहूकार ने दो एकड़ जमीन जिसकी कीमत 60 लाख रुपये है वह वापस कर दी और खरीद के पेपर्स भी रद्द कर दिए.