खुद को मरा घोषित कर पाक महिला ने बीमा कंपनी से ऐंठे 11 करोड़ रुपये, ऐसे खुली पोल

पाकिस्तानी अधिकारियों ने एक महिला द्वारा धोखे से खुद को मृत घोषित किए जाने और दो जीवन बीमा पॉलिसियों के 1.5 मिलियन डॉलर का दावा करने के बाद जांच शुरू की है.

इस मामले को देख रही संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के एक अधिकारी के अनुसार, सीमा खार्बे ने 2008 और 2009 में अमेरिका की यात्रा की, और अपने नाम पर दो बड़ी जीवन बीमा पॉलिसियां ​​खरीदीं.

2011 में महिला ने एक डॉक्टर सहित पाकिस्तान के कुछ स्थानीय सरकारी अधिकारियों को रिश्वत दी और अपने नाम पर मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करवा दिया. दस्तावेज़ में यह भी दिखाया कि उसे दफनाया गया था.

 अधिकारी ने कहा कि प्रमाण पत्र का उपयोग महिला के बच्चों द्वारा 1.5 मिलियन अमरीकी डालर (लगभग 23 करोड़ पाकिस्तानी रुपये) के दो जीवन बीमा पॉलिसी भुगतान का दावा करने के लिए किया गया था. इस रकम की भारत में करीब कीमत 11 करोड़ रुपये हैं.

खर्बे को मृत घोषित किए जाने के बाद उसने कराची अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से कम से कम 10 बार विदेश यात्रा की, जाहिर तौर पर माना गया कि कोई भी एयरलाइंस धोखाधड़ी की पहचान करने में सक्षम नहीं थी. अधिकारी ने कहा, “उसने कुछ पांच देशों का दौरा किया, लेकिन हर बार जब वह घर लौटी.

एफआईए मानव तस्करी सेल ने अब महिला, उसके बेटे और बेटी, एक डॉक्टर सहित और कुछ स्थानीय सरकारी अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज किए हैं. अधिकारी ने कहा, “अमेरिकी अधिकारियों ने हमें इस महिला के बारे में सतर्क किया और हमने इस बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी की जांच शुरू की.”