अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस दुनिया की सबसे खास इमारत होगी नई संसद, 10 दिसंबर को पीएम मोदी रखेंगे आधारशिला

भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर भारतीय संसद का नया भवन देश को समर्पित किया जाएगा, जिसकी आधारशिला देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 दिसंबर को रखेंगे.

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला के मुताबिक अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस नया संसद भवन दुनिया की बेहतरीन इमारतों में से एक होगी, जिसे अगले 100 वर्षों को ध्यान में रखकर बनाया जा रहा है.

नए भवन में मौजूदा सभी सुविधावों को समाहित करते हुए भारतीय सभ्यता और शिल्पकारों की कलाकृतियों को दर्शाया जाएगा, ताकि भवन के अंदर दाखिल होते ही भारत की झलक दिखाई दे.

जबकि मौजूदा संसद भवन के ढांचे से बिना छेड़छाड़ किये उसे पुरातत्व के रूप संग्रहित किया जाएगा.

नए संसद भवन की क्या खूबियां होंगी?

  1. भवन को भूकंप की समस्या को ध्यान में रखते हुए बनाया जा रहा है.
  2. ये संपूर्ण आत्मनिर्भर भारत का प्रतीक होगा.
  3. आने वाले समय के संसद सदस्यों की संख्या को ध्यान में रखते हुए 1224 सदस्यों के बैठने की व्यवस्था होगी.
  4. विश्व में एक अलग पहचान वाला भवन होगा.
  5. कुल 971 करोड़ की लागत से बनकर तैयार होगा, जबकि 64,500 वर्गफुट में होगा.
  6. नए भवन में सभी सदस्यों के लिए कार्यालय होगा.