समस्तीपुर में कागजों पर खुले केंद्र, नहीं हो रहा धान क्रय, क‍िसान हैंं परेशान

धान अधिप्राप्ति को लेकर जिले 381 पंचायतों में से 234 पंचायतों में पैक्स को क्रय केंद्र खोलने की अनुमति प्रदान की गई है। वहीं चार व्यापार मंडल को भी क्रय खोलने का निर्देश दिया गया है।

लेकिन धरातल पर अभी तक कोई क्रय केंद्र नहीं खुल पाया है। इसकी बड़ी वजह है कि पैक्सों को सहकारी बैंक बिहट से कम कैश क्रेडिट उपलब्ध कराया गया। पैक्स अध्यक्षों का कहना है कि धान क्रय के 48 घंटे के अंदर किसानों का भुगतान करना होता है।

ऐसे में कम कैश क्रेडिट उपलब्ध होने की वजह से धान क्रय में परेशानी होती है। किसानों का धान लेने के बाद समय पर भुगतान नहीं हो पाता है। इस वजह से पैक्स अध्यक्ष धान क्रय करने से पीछे हट रहें हैं।

वहीं सहकारिता विभाग के अधिकारियों का कहना है कि धान क्रय को लेकर पैक्स अध्यक्षों को दिशा निर्देश जारी कर दिया गया है। सहकारिता विभाग से पंजीकृत सभी किसानों का क्रय केंद्र पर धान लिया जाना है।

खासकर छोटे किसानों का प्राथमिकता के आधार पर धान लेना है। धान क्रय करने से पीछे हटने वाले पैक्सों पर विभागीय कार्रवाई की बात कही जा रही है।