मध्‍य प्रदेश: युवक ने भाई, भाभी और दो बच्‍चों को जिंदा जलाया, बाद में फांसी लगाकर जान दी

मध्‍य प्रदेश के अनूपपुर जिले के जैतहरी थानांतर्गत ग्रामपंचायत धनगवां के पिपरहा टोला में पारिवारिक विवाद के कारण दीपक नामक युवक ने बीती रात करीब डेढ़ से दो बजे के बीच अपने सगे भाई, भाभी और दो बच्‍चों को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया और बाद में खुद फांसी पर झूलकर आत्महत्या कर ली.

जानकारी के अनुसार, अनुपपुर जिले के जैतहरी कस्बे के धनगवा में रहने वाले 32 वर्ष के दीपक विश्वकर्मा ने अपने सगे भाई, भाभी और दो बच्चो को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया. घटना बीती रात की है.

आग लगने पर मची चीख-पुकार सुनकर बगल के कमरे में सो रहे दीपक के अन्‍य भाई ने दरवाजा तोड़ कर बच्चे को  बाहर निकाला जिसको शहडोल के लिए रिफर कर दिया. बच्‍चा बुरी तरह जल चुका है,

वहीं जलकर मृत हुए व्‍यक्तियों में पिता ओमकार विश्वकर्मा (उम्र 46 वर्ष), पत्नी कस्तूरिया बाई (40 वर्ष) और बेटी निधि विश्वकर्मा (उम्र 16 वर्ष) इस कदर जल चुके है कि शवों की पहचान भी मुश्किल है.

गांव वालों का कहना है कि दीपक विश्‍वकर्मा ने ही बाहर से दरवाजा बंद करके अपने सो रहे भाई के परिवार के दरवाजे में पेट्रोल डाल कर आग लगा दी और खुद दूसरे कमरे में फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या कर ली. जमीन जायदाद को विवाद का कारण बताया जा रहा है.