रोसड़ा में छठ घाट बनाने गए युवक की पोखर में डूबकर मौत

रोसड़ा के पांचोपुर के निकट चोरवा पोखर में डूबकर एक युवक की मौत हो गई। उक्त युवक मनीष कुमार (20) जरही गांव के रणधीर महतो का पुत्र था। गुरुवार को दोपहर बाद घटना उस समय घटी जब अपने मित्रों के साथ मनीष छठ घाट बनाने पोखर किनारे गया था।

इसी बीच अचानक उसके साथ गए मित्र व रिश्ते के चाचा सुमन कुमार पानी में डूबने लगा। डूबते देख मनीष उसे बचाने के लिए खुद छलांग लगा दिया। सुमन को बचाने में तो कामयाबी उसे मिल गई कितु मनीष अपने आप को नहीं बचा पाया।

हल्ला सुन दौड़े आसपास के लोगों ने उसे बाहर निकाला और सीधा अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। दो भाइयों में बड़ा मनीष पटना में रहकर प्रतियोगिता की तैयारी करता था। परिजनों में मचा कोहराम, जरही में छाया मातम

गांव के होनहार युवक की डूबकर हुई मौत से परिजनों में जहां कोहराम मचा है, वहीं पूरे जरही गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया है। मनीष का शव घर पहुंचते ही मां फुलकुमारी देवी बेसुध होकर अपने लाल के शरीर पर गिर गई।

गांव की महिलाओं द्वारा काफी मशक्कत कर उन्हें होश में लाया गया। और होश में आते ही बेटा हो बेटा की चित्कार सुन सभी की आंखें बरसने लगी। वही महात्मा जी के नाम से चर्चित पिता रणधीर महतो का रो-रो कर बुरा हाल था।

लोगों द्वारा उन्हें भी ढांढ़स बंधाने का भरसक प्रयास किया जा रहा था। जबकि छोटा भाई अनीष अपने अग्रज के शव को पकड़ फफक-फफक कर रोए जा रहा था।