समस्तीपुर में लोगों को समय से कोरोना वैक्सीन देने के लिए चल रही इस स्तर की तैयारी, यहां जानें सबकुछ

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए तैयार हो रही वैक्सीन के बीच इससे जुड़ी जरूरी कवायद भी शुरू कर दी गई है। समस्तीपुर जिले में सभी सरकारी, गैर सरकारी स्वास्थ्य कर्मियों का डाटा बेस बनाने का काम शुरू कर दिया गया है।

जिले में टीकाकरण यूनिट के अलावा दूसरे स्वास्थ्य कर्मियों, चिकित्सकों, अधिकारियों का डाटा बेस बनना है। इसमें कर्मियों के नाम, पदनाम, पता आदि रिकॉर्ड किया जाएगा। जानकारी के अनुसार सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को इस बावत पत्र भेजा गया है।

जहां से अपने-अपने कार्यालय के अधीन काम करने वाले कर्मियों, हेल्थ सर्विस प्रोवाइडर स्टाफ की सूची विस्तृत ब्योरा के साथ मांगी गई है। प्राइवेट अस्पताल एवं जांच घर में कार्यरत कर्मियों की भी सूची मांगी गई है। इसी तरह से प्राइवेट अस्पताल, नर्सिंग होम से जुड़े संस्थानों को भी पत्र भेजा जा रहा है।

कर्मियों की जानकारी देने को कहा गया

सिविल सर्जन डॉ. सत्येंद्र कुमार गुप्ता एवं जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. सतीश कुमार सिन्हा ने जिला अंतर्गत सभी प्राइवेट नर्सिंग होम, क्लीनिक और पैथोलॉजि जांच घर के संचालकों को संस्थान अंतर्गत कार्यरत चिकित्सकों एवं कर्मियों की जानकारी देने को कहा गया है।

इसको लेकर एक पत्र आईएम एवं लैब एसोसिएशन के अध्यक्ष को भी दिया गया है। बताया गया कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निदेशानुसार सभी हेल्थ केयर वर्कर्स से संबंधित डाटा बेस तैयार किया जाना है। जिसके अंतर्गत जिले के सभी सरकारी एवं निजी स्वास्थ्य संस्थान सम्मिलित होंगे।

जिनका प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन की उपलब्धता के अनुसार कोविड-19 वैक्सीन का टीकाकरण किए जाने की संभावना है। इसको लेकर मास्टर सूची तैयार करते हुए विस्तृत कार्ययोजना तैयार किया जाना है। इसको लेकर वेबपोर्टल लिंक उपलब्ध कराया गया है।

जिस पर आंकड़ा देने को कहा गया है। इस संबंध में किसी भी प्रकार की जानकारी हेतु हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। जिला प्रतरक्षण पदाधिकारी का हेल्पलाइन नंबर 9470003703 एवं जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी 9471007333 पर सपंर्क कर सकते है।