क्ष‍ितिज प्रसाद के वकील का दावा, NCB ने करण जौहर का नाम लेने का बनाया दबाव

इस वक्त करण जौहर की एक पार्टी का जिक्र भी आ गया है जिसे लेकर इस बात का दावा किया जा रहा है कि पार्टी के दौरान स्टार्स द्वारा ड्रग्स का सेवन किया गया था. एनसीबी की नजर इस पार्टी पर है. मामले में करण जौहर का नाम आने पर क्ष‍ितिज के वकील ने उनके साथ एनसीबी के दुर्व्यवहार का ब्यौरा सुनाया है.

एनसीबी ने रव‍िवार को ड्रग्स मामले में धर्मा प्रोडक्शन के पूर्व एग्जीक्यूट‍िव प्रोड्यूसर क्ष‍ितिज प्रसाद को कस्टडी में ले लिया है. अब उनके वकील सतीश मानश‍िंदे ने दावा किया है कि एनसीबी ने पूछताछ के दौरान क्ष‍ितिज पर करण जौहर का नाम लेने का दबाव बनाया था. बता दें इस वक्त करण जौहर की एक पार्टी का जिक्र भी आ गया है जिसे लेकर इस बात का दावा किया जा रहा है कि पार्टी के दौरान स्टार्स द्वारा ड्रग्स का सेवन किया गया था. एनसीबी की नजर इस पार्टी पर है. 

मामले में करण जौहर का नाम आने पर क्ष‍ितिज के वकील ने उनके साथ एनसीबी के दुर्व्यवहार का ब्यौरा सुनाया है. उन्होंने एनसीबी पर कई आरोप भी लगाए हैं. उन्होंने बताया कि क्ष‍ितिज रव‍िवार को मेट्रोपॉलिटन मज‍िस्ट्रेट के सामने वीड‍ियो कॉन्फ्रेंसिंग के जर‍िए पेश हुए थे, जहां उन्हें 3 अक्टूबर तक पुलिस कस्टडी में रखने का फैसला सुनाया गया. क्ष‍ितिज के वकील ने कहा कि मज‍िस्ट्रेट के सामने पेशी से पहले क्ष‍ितिज को प्रताड़‍ित और ब्लैकमेल किया गया. इसके अलावा क्ष‍ितिज के साथ थर्ड डिग्री ट्रीटमेंट और दुर्व्यवहार भी किया गया था. वकील के मुताबिक कोर्ट के सामने क्ष‍ित‍िज ने कहा कि उन्हें 24 सितंबर 2020 को एनसीबी की ओर से कॉल आई थी जब वह दिल्ली में थे. एनसीबी ने उन्हें बताया कि वे क्ष‍ितिज का बयान दर्ज करेंगे और उनके घर की तलाशी लेंगे जिसे उन्होंने तब तक सील कर लिया था. 25 सितंबर को क्ष‍ितिज मुंबई आए और सुबह 9 बजे के करीब एनसीबी की मौजूदगी में अपने घर के अंदर एंटर किया. एनसीबी को क्ष‍ितिज के घर से कुछ नहीं मिला सिवाय बालकनी में सिगरेट के टुकड़े के.