समस्तीपुर: चार से पांच फुट का कद्दू निकल रहा किसान के खेत में

दलसिंहसराय में जैविक विधि से शुरू की गई खेती का बेहतर परिणाम अब सामने आने लगा है। प्रगतिशील किसान बलवंत कुमार चौधरी के नवादा स्थित खेत में लगे कद्दू में 4 से 5 फुट लम्बाई का कद्दू निकल रहा है।

रासायनिक उर्वरकों की जगह जैविक खेती अपनाने के बाद उत्पादित कद्दू जहरमुक्त होने के साथ ही सुस्वादु भी है। वहीं पपीता की खेती में भी इन्होंने जैविक विधि अपना लिया है। इनके खेत मे पहली बार उत्पादित मौसम्बी का आकार बड़ा था तथा इससे निकले रसों में कसैलापन भी नहीं था। यही कारण है कि इनके खेत से ताजी हरी सब्जियों की तरह ही मौसम्बी एवं पपीता हाथों-हाथ लोग ले जाते हैं।

किसान एवं सहयोगी शिव कुमार ने बताया कि खेत मे निर्मित गौशाला में पल रहे दुधारू मवेशियों से मिलनेवाले गोबर से अपने यहां पिछले कई वर्षों से तैयार किये जा रहे वर्मी कम्पोस्ट के प्रयोग से कृषि उत्पादन में मिले फायदा ने उन्हें जैविक खेती के प्रति आर्किषत किया। अब स्वयं ऑर्गेनिक खाद तैयार कर खेती में इसका लाभ ले रहे हैं। इनके अलावे क्षेत्र के अन्य कई किसानों ने भी जैविक खेती अपनाकर खेती को लाभकारी एवं रोजगरोपरक बनाने का काम किया है। समय-समय पर कृषि विशेषज्ञों की टीम ने उनके खेत में फसलोत्पादन का जायजा लिया है।

Source jagaran