पीठ में घुसे चाकू के साथ थाना पहूंचा युवक, ईलाज कराने के बजाए कागजी कार्रवाई में व्यस्त रही पुलिस

मध्य प्रदेश के जबलपुर में पुलिस की बेरहनमी का एक मामला सामने आया है. यहां के गढ़ा थाने में गंभीर रूप से घायल एक युवक को रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए काफी देर तक खड़ा रहना पड़ा. वहीं, पुलिस शिकायत लिखने के नाम पर कागजी खानपूर्ति में लगी रही. इस दौरान युवक दर्द से कराहता रहा. इसके बावजूद भी पुलिस ने उसे समय पर इलाज नहीं कराया और रिपोर्ट लिखने के नाम पर थाने में खड़ा करवाए रखा.

जानकारी के मुताबिक, युवक को चाकू मारा गया था. चाकू युवक शरीर में घुसा हुआ था और वह थाने के अंदर इसी स्थिति में रिपोर्ट लिखवाने के लिए खड़ा था. खास बात यह है कि इतना गंभीर मामला होने के बाद भी पुलिस ने पहले उसे अस्पताल में भर्ती नहीं कराया, बल्कि उसने पहले शिकायत की रिपोर्ट लिखी.

पुलिस के इस व्यवहार की निंदा कर रहे हैं
अब मामला सामने आने के बाद लोग पुलिस के इस व्यवहार की निंदा कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि ऐसी स्थिति में पुलिस को पहले घायल युवक को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराना चाहिए था. रिपोर्ट तो अस्पताल में भी लिखी जा सकती थी. वहीं, लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि क्या पुलिस को इतना भी कॉमन सेंस नहीं है कि शरीर में अंदर तक घुसे चाकू के साथ घायल युवक का पहले इलाज करना जरुरी था या फिर रिपोर्ट लिखना घायल युवक का नाम sonu है

Source news 18